आत्मा और परमात्मा से मिलन ही है होली-सरिता दीदी


फिरोजाबाद।प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय के मुख्य सेंटर ज्योति भवन में आज फूलों की होली बड़े हर्ष उल्लास और  उमंग से मनाई गई। फूलों से होली खेलने का इतना आनंद आ गया कि भाई बहन उमंग और उत्साह के अतिरेक में खो गए।
राधा रानी के आकर्षक परिधानों में सजे स्वरूपों ने सबका मन मोह लिया। राधा और रानी के साथ ही सेंटर की संचालिका सरिता दीदी सहित अन्य दीदियों ने आकर्षक रुप से सजे थालों में रखे फूलों से होली खेली। थाली के फूलों को जब बारी बारी से सभी भाई बहनों के सिर पर प्यारे बाबा की याद में बरसाए गए,तब का नजारा बेहद आत्मिक सुख का अनुभव कराने वाला था। फूलों के बरसाए जाने के पलों में भाई बहन भाव विभोर और पूरी तन्मयता से एक तरह से मेडिटेशन की मुद्रा की सहज अनुभति कर रहे थे।साथ में होली के संबंध में मधुर गीत भी बज रहा था।
संचालिका सरिता दीदी ने कहा कि कोई भी उत्सव हमारे उमंग और उत्साह की निशानी है। जब सभी आत्माएं परमात्मा के रंग में रंग जाती हैं तब आत्मा और परमात्मा के मिलन की होली मनती है। कार्यक्रम में प्रधानाचार्य अमर प्रताप सिंह, सी.ए. राकेश गोयल, आचार्य ध्रुव कुमार, डॉ. रामसनेही  गुप्ता, डॉ. हरिओम शर्मा, अंजना अग्रवाल, छाया गोयल, आशा गुप्ता, खुशी बहन, सपना बहन, नूतन, वन्दना, रामनाथ भाई, सी. ए. सुमित आदि उपस्थित थे।


Popular posts