डाॅ0 भीमराव अम्बेडकर ने संविधान निर्माण के समय सभी धर्मो को एक समान अधिकार देने की पहल की-जिलाध्यक्ष


फर्रुखाबाद संवाददाता(आरएनएस)। भारत रत्न बाबा साहब डाॅ0 भीमराव अम्बेडकर के 64वें परिनिर्माण दिवस के अवसर पर एक गोष्ठी का आयोजन जिलाध्यक्ष नदीम अहमद फार्रूकी की अध्यक्षता में आवास विकास स्थित समाजवादी पार्टी जिला कार्यालय पर एक विचारगोष्ठी आयोजित कर उनके जीवन पर चर्चा की गयी।
इस मौके पर पूर्व जिलाध्यक्ष सतीश दीक्षित ने कहा कि डाॅ0 राममनोहर लोहिया एवं डाॅ0 बी0आर0 अम्बेडकर ने सदैव ही समाज की कुरीतियों, विसंगतियों को समाप्त करने का आजीवन प्रयास किया। नृत्यमान महानगर अध्यक्ष विजय यादव ने कहा कि वर्तमान समय में देश व प्रदेश में भाजपा के नेतृत्व वाली सरकरी भारतीय संविधान की धज्जियां उड़ा रही है। डाॅ0 सुबोध यादव ने कहा कि वर्तमान समय में सिर्फ समाजवादी पार्टी ही डाॅ0 भीमराव अम्बेडकर के आदर्शो एवं सिद्धान्तों को पूरा करने के लिये सभी वर्गो के हक की लड़ाई लड़ रही है। पूर्व जिलाध्यक्ष चन्द्र पाल ने कहा कि संविधान निर्माता भीमराव अम्बेडकर ने अपने बाल्यकाल से ही समाज में फहली कुरीतियां, वर्ण व्यवस्था व छुआछूत विसंगतियों का सामना किया। जिला महासचिव नृत्यमान मंदीप यादव ने कहा कि देश और प्रदेश की वर्तमान सरकारें संविधान के सिद्धान्तों को पलीता लगा के काम कर रही है। अध्यक्ष्ता कर रहे जिलाध्यक्ष नदीम फारूकी ने कहा कि डाॅ0 बी0आर0 अम्बेडकर ने संविधान निर्माण के समय सभी धर्मो जातियों को एक समान अधिकार देने की पहल की। इस मौके पर ओमप्रकाश शर्मा, राकेश दिवाकर, सोनू कुशवाह, मुजीबुल हसन, बेचेलाल यादव, इलियास मंसूरी, शिवशंकर शर्मा सहित सैकड़ों की तादात् में पदाधिकारी व सपा कार्यर्का मौजूद रहे।


Popular posts